July 3, 2022

बालिकाओ को मिले खेल में ज्यादा प्रोत्साहनःरेखा आर्य

 

गुजरात में राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के युवा और खेल मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन की हुई शुरुवात

खेल और युवा मामलों की मंत्री रेखा आर्या कर रही राष्ट्रीय सम्मेलन में शिरकत

सम्मेलन देश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए है एक बेहतर मंच-रेखा आर्या

भारत को एक खेल महाशक्ति बनाने में राज्यों और केंद्र सरकार के बीच तालमेल की है महत्वपूर्ण भूमिका-रेखा आर्या

देहरादून: गुजरात के एकता नगर, केवड़िया गुजरात में राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के युवा और खेल मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन की शुरुवात हो गई है। उद्घाटन सत्र में उत्तराखंड प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व खेल और युवा मामलों की मंत्री श्रीमती रेखा आर्या कर रही है। उनके साथ वरिष्ठ आईपीएस श्री अभिनव कुमार विशेष प्रधान सचिव खेल और युवा मामले मौजूद है ,साथ ही उत्तराखंड से अजय अग्रवाल संयुक्त निदेशक युवा कल्याण और मनोज शर्मा उप निदेशक खेल भी मौजूद है।यह आयोजन दो दिनों तक चलेगा।

अपने सम्बोधन में  खेल मंत्री  रेखा आर्या ने कहा कि जैसा कि आप जानते हैं, यह भारत में खेलों के लिए एक रोमांचक समय है क्योंकि हम हाल ही में संपन्न हुए डेफ़ ओलंपिक, थॉमस कप और उबेर कप, 2022 में अपने चैंपियन एथलीटों की सफलता का जश्न मना रहे हैं। हमारी महिला मुक्केबाजों ने विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में भी हमें गौरवान्वित किया है।

खेल मंत्री  रेखा आर्या ने कहा कि यह एक ऐसा समय है जब हमारे नवोदित एथलीटों को वैश्विक खेल परिदृश्य में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए अपनी क्षमता और प्रोत्साहन को बढ़ावा देने के लिए पारिस्थितिकी तंत्र की आवश्यकता है। भारत को एक खेल महाशक्ति बनाने में राज्यों और केंद्र सरकार के बीच तालमेल की महत्वपूर्ण भूमिका है।

खेल एवं युवा मामलों की मंत्री रेखा आर्या ने कहा कि गुजरात मे चल रहा यह सम्मेलन निश्चित रूप से उत्तराखंड में खेल को बढ़ावा देने की दिशा में एक सार्थक कदम होगा।

खेल मंत्री रेखा आर्या ने कहा कि उत्तराखंड में खेल के ट्रेनिंग सेंटर के रूप में हमारे पास दो स्पोर्ट्स कॉलेज हैं जिसमे एक गढ़वाल मंडल और दूसरा कुमाऊं मंडल में स्थित है. मंत्री  रेखा आर्या ने बताया कि बालिकाओ को लेकर खेल विभाग संजीदा है,ऐसे में बालिकाओ की खेल प्रतिभा को निखारने के लिए उधमसिंह नगर जनपद में एक गर्ल्स स्पोर्ट्स कॉलेज जल्द ही प्रारंभ किया जाने वाला है ।

इसके अतिरिक्त हमारे पास हर जनपद में स्पोर्ट्स हॉस्टल हैं जो कि लगातार काम कर रहे हैं। इसके अतिरिक्त टैलेंट आईडेंटिफिकेशन को निखारने के लिए हम हर वर्ष खेल महाकुंभ का आयोजन करते हैं,जिसमे करीब ढाई लाख बच्चे प्रतिभागी रहते हैं । खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्या ने कहा कि हम इस खेल को न्याय पंचायत लेवल तक लेकर आते हैं और इसे स्टेट लेवल तक पहुंचाने का काम करते हैं।

हाल ही में हम लोग खेल पॉलिसी लेकर आए हैं और इस खेल पॉलिसी में 8 से 14 वर्ष तक की आयु के 300 खिलाड़ियों को प्रति जनपद लगभग 3 हजार 900 और पीआरडी को 1500 रुपये प्रतिमाह छात्रवर्ती देने का निर्णय माननीय मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी जी ने किया है,जिसकी व्यवस्था खेल पॉलिसी में भी है ।ठीक इसी प्रकार से 14 से 23 वर्ष के खिलाड़ियों के लिए 200 खिलाड़ी प्रति जनपद के हिसाब से 2600 खिलाड़ियों को हम लोग 2 हजार रुपये हर माह देने की व्यवस्था की गई है ।

बता दे कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के युवा मामलों और खेल के प्रभारी मंत्रियों का यह सम्मेलन 24 और 25 जून, 2022 को केवडिया, गुजरात में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के निकट आयोजित किया जा रहा है। यह सम्मेलन देश में खेलों को बढ़ावा देने के साथ-साथ युवाओं के विकास से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर विचारों पर चर्चा करने और सुझाव लेने और उत्कृष्टता के स्वर्ण मानक को प्राप्त करने के लिए आगे की राह पर विचार करने के लिए एक मंच है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!