December 3, 2022

लापरवाहीःरामभरोसे राजकीय इंटर कॉलेज चौण्डी,अंधेरे में बच्चों का भविष्य

चौण्ड़ी/पोखरीःबेहतर शिक्षा और स्वास्थ्य का दावा करने वाली राज्य सरकार के दावों की पोल परत दर परत खुलती जा रही है। ताजा मामला विकासखंड पोखरी के अर्न्तगत राजकीय इंटर कॉलेज चौण्डी का है जहां 6 ग्राम पंचायतों व 20 गांवों के बच्चों का भविष्य अधर में लटक हुआ है।विगत कई समय से इस इंटर कॉलेज में अधिकांस विषयों के अध्यापक व कर्मचारियों के पद रिक्त है।

पोखरी व्लाक से 25 किलामीटर की दूरी पर स्थित राजकीय इंटर कॉलेज चौण्डी में गणित,भौतिक विज्ञान,रासायनिक विज्ञान,जीव विज्ञान,अर्थशास्त्र,राजनीतिक विज्ञान के अलावा लिपिक संवर्ग के दो पद व चतुर्थ श्रेणी के 4 पद रिक्त हैं। अध्यापकों व कर्मचारियों के अभाव के कारण अभिभावकों को अपने बच्चों को अन्य दूरस्त विद्यालयों में भेजना पड रहा है।जिससे छात्र-छात्राओं व अभिभावकों को भारी परेसानियों को झेलना पड़ रहा है।

वही 6 ग्राम पंचायतों के अभिभावक संघ अध्यक्ष जगदीश सिंह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंण्डल ने मुख्य शिक्षा अधिकारी चमोली के कार्यालय में जाकर जोरदार प्रर्दशन किया और राजकीय इंटर कॉलेज चौण्डी में शिक्षको व कर्मचारियों के रिक्त पदों को भरने की मांग की। अभिभावक संघ के प्रतिनिधि मण्डल ने शासन और प्रशासन को चेताया कि जल्द अगर उनकी मांग पर विचार नहीं किया गया तो वह उग्र प्रर्दशन करने के लिए मजबूर होंगे।

आपको बता दें कि उत्तराखंड में अधिकांस सरकारी स्कूलों में अध्यापक व कर्मचारियों के कई पद रिक्त हैं।जिससे छात्र छात्राओं का भविष्य अधर में लटका हुआ है। लेकिन उच्च गुणवक्तापूर्ण शिक्षा का दावा करने वाले जिम्मेदार लोगों को इस बात की जरा भी चिन्ता नहीं है कि जिन सरकारी स्कूलों में अध्यापक व कर्मचारी ही न हो उनमेें पढ़ने वाले गरीब बच्चों का भविष्य क्या होगा?यह एक यक्ष प्रश्न बना हआ है।

भानु प्रकाश नेगी, हिमवंत प्रदेश न्यूज चौण्डी पोखरी

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!