May 26, 2022

एसजीआरआर कॉलेज ऑफ नर्सिंग में धूमधाम से मनाया गया इंटरनेशनल नर्सिंग डे

मनीषा राणा, कंचन, प्रांजली उनियाल व आयुषी बेस्ट नर्सिंग स्टूडेंट से सम्मानित  एसजीआरआर कॉलेज ऑफ नर्सिंग में धूमधाम से मनाया गया इंटरनेशनल नर्सिंग डे  एकल गायन मंे बीएससी नर्सिंग की पल्लवी व एकल डांस में पूनम अव्वल  पंजाबी, राजस्थानी, भोजपुरी सहित बॉलीवुड गीतों की मधुर धुनों पर जमकर थिरके छात्र-छात्राएं

 

देहरादून। श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के कॉलेज ऑफ नर्सिंग में अन्तर्राष्ट्रीय नर्सिंग दिवस धूमधाम के साथ मनाया गया। नर्सिंग स्टाफ ने एक दूसरे को इस सेवा पर्व की शुभमानाएं दीं व एक दूसरे की हौंसलाफजाई की। अर्न्तराष्ट्रीय नर्सिंग डे के अवसर पर लैंप लाइटिंग की गई व ओथ टेकिंग सेरेमनी हुई। हर वर्ष फलोरेंस नाइटेंगेल की याद में दुनिया भर में नर्सिंग डे मनाया जाता है। नर्सिंग छात्र-छाात्राएं लैंप लाइटिंग कर उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं व नर्सिंग पेशे के प्रति शपथ लेते हैं। बैच 2020-24 की बीएससी प्रथम वर्ष की छात्रा मनीषा राणा को अव्वल नर्सिंग स्टूडेंट चुनीं, वहीं बीएससी द्वितीय वर्ष की सृष्टि टम्टा व बीएससी तृतीय वर्ष की आंचल थापा को तृतीय स्थान मिला। एकल गायन में बीएससी नर्सिंग द्वितीय वर्ष की छात्रा पल्लवी को पहला, बीएससी तृतीय वर्ष की छात्रा सृष्टि को दूसरा व स्टाफ नर्स तेंजिंग को तीसरा स्थान मिला, एकल डांस मंे स्टाफ नर्स सोनम को पहला, साक्षी को दूसरा व बीएससी नर्सिंग की छात्रा कुनिका को तीसरा स्थान मिला। गुरुवार को श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज़ के सभागार में कार्यक्रम का शुभारंभ उत्तराखण्ड की पूर्व स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ त्रिप्ती बहुगुणा, श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ यू.एस रावत, कुलसचिव, श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय डॉ दीपक साहनी, परीक्षा नियंत्रक, श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय डॉ. संजय शर्मा व एसजीआआर कॉलेज ऑफ नर्सिंग की प्राचार्य प्रो. जी. रामालक्ष्मी ने संयुक्त रूप से किया। डॉ त्रिप्ती बहुगुणा ने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं में नर्सिंग का अहम योगदान है। उन्होंने नर्सिंग प्रोफेशन शुरू करने जा रहे नव प्रवेशी छात्र-छात्राओं का मागदर्शन करते हुए कहा कि वे अपनी भूमिका को समझें व समाज सेवा व मरीजों की सेवा के क्षेत्र में अपने लक्ष्य निर्धारित करें। उन्होंने कहा कि नर्सिंग प्रोफशनलों के लिए सरकारी सेवाओं में विभिन्न पदों पर भर्तियां खुल रही हैं, सुदूर क्षेत्रों मंे उनकी सेवाओं की आवश्यकता है। कुलपति डॉ यू़.एस.रावत ने कहा कि बिना नर्सिंग स्टाफ के स्वास्थ्य सेवाओं की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। उन्होंने नर्सिंग के सभी छात्र-छात्राओं का स्वागत करते हुए कहा कि आप सभी बेहद सौभाग्यशाली हैं कि आपने नर्सिंग जैसे सेवा क्षेत्र को अपना कर्मक्षेत्र चुना है। उन्होंने कहा कि एसजीआरआर कॉलेज ऑफ नर्सिंग से पासआउट विभिन्न छात्र-छात्राएं देश विदेश की नामचीन संस्थानों में सेवाएं दे रहे हैं व अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहे हैं। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि उत्तराखण्ड नर्सेेज़ एण्ड मिडवाइफ काउंसिल के कुलसचिव रामकुमार शर्मा ने कहा कि नर्सिंग प्रोफेशन को आज भी बेहद आदर व सम्मान के साथ देखा जाता है। उन्होंने सभी छात्र-छात्राओं को स्वर्णिम भविष्य की शुभकामनाएं दीं। इसके पश्चात कार्यक्रम में उपस्थित सभी नर्सिंग सदस्यों ने शपथ ली। शपथ में उन्होंने कहा कि मरीज़ के प्रति गोपनीयता बनाए रखेंगे व पूरे समर्पण भाव से मरीजों की सेवा करेंगे। बीएससी, जीएनएन व एएनएम प्रथम वर्ष की छात्राओं ने कैंडल डांस किया। कॉलेज ऑफ नर्सिंग की फेकल्टी प्रो. दीनेश्वरी ने कॉलेज की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की। शैक्षणिक कार्यों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। नर्सिंग डे सेलिब्रेशन के अवसर पर असिस्टेंट प्रोफेसर स्मिता एवम् असिस्टेंट प्रोफेसर रेबेका ने सभी आगन्तुकों का स्वागत किया। इस बार अन्तरार्ष्टीय नर्सिंग काउंसिल ने इस वर्ष 2022 का थीम नर्सेज: अ वाइस टू लीड- इन्वेस्ट इन नर्सिंग एण्ड रिस्पैक्ट राइट्स एण्ड टू सिक्योर ग्लोबल हैल्थ रहा। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल की सभी वार्ड् इचांर्जेज नर्सिंग स्टाफ की ओर से स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल की नर्सिंग अधीक्षिका डॉ बिंसी पोथन तिवारी द्वारा अभिभाषण दिया गया। कोविड महामारी के दौरान संक्रमण से बचाव के लिए जब पूरी दुनिया अपने घरों में थी, उस दौरान नसिंग स्टाफ से प्रतिदिन 14 से 18 घण्टे काम करके सेवा की अनूठी मिसाल पेश की। इस सेवा कार्य के दौरान कई नर्सिंग स्टाफ ने जान की बाजी लगा दी, उन्होंने ऐसी पुण्य आत्माओं को शहीद का दर्जा दिए जाने की मांग की। स्टाफ नर्स निशा ने नर्सेज डे पर भाषण दिया। उन्होंने फलोरेंस नाइटेंगेल के जीवन परिचय पर विस्तृत प्रकाश डाला। स्टाफ नर्स प्रियांशी व टीम ने बेटी पढ़ाओ बेटी बढ़ाओं की थीम पर महिला सशक्तिकरण के उपर मनमोहक नाटक मंचन किया। स्टाफ नर्स सिस्टर टेंजिंग, सिस्टर निर्मला, सिस्टर आना, सिस्टर आशा, सिस्टर खशबू ने सोलो सॉग प्रस्तुत किया। एसजीआरा कॉलेज ऑफ नर्सिंग के छात्र छात्राओं ने फैशन शो के माध्यम से देश के विभिन्न राज्यों की पारंपरिक वेशभूषा का प्रस्तुतीकरण किया। छात्र-छात्राओं ने बॉलीवुड, पंजाबी, गढ़वाली, भोजपुरी गीतों की मधुर धुनों पर आकर्षक नृत्य से देर शाम तक समा बांधे रखा। एक के बाद एक हाई वाल्टेज़ म्यूजिक की धुनों पर छात्र-छात्राओं ने जमकर प्रस्तुतियां दीं। गीत संगीत का दौर देर शाम तक जारी रहा। इस अवसर पर एसजीआरआर विश्वविद्यालय कॉलेज ऑफ नर्सिंग के छात्र-छात्राएं व स्टाफ सदस्य मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!