July 3, 2022

सीमांत जनपद चमोली में आठवां अन्तराष्ट्रीय योग दिवस उत्साह के साथ मनाया गया

। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आंठवें अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस की थीम ‘मानवता के लिए योग’ अर्थात योग फॉर हयूमैनिटी के साथ आयुष विभाग की ओर से पीजी कॉलेज गोपेश्वर के जिम्नेजिमय हॉल सहित जीआईसी गैरसैंण, कर्णस्थली कर्णप्रयाग, अलकनंदा व नंदाकिनी संगम नन्दप्रयाग और हिमक्रीडा स्थल औली में विशेष योग शिविरों का आयोजन किया गया। योग शिविरों में परमार्थ निकेतन ऋषिकेश से प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की उपस्थिति में योग कार्यक्रम का सीधा प्रसारण भी किया गया। इस दौरान योग प्रशिक्षकों ने व्यायाम, आसन, प्राणायाम, ध्यान, संकल्प एवं शांति पाठ सहित विभिन्न आसन एवं प्रणायाम की जानकारी के साथ योगाभ्यास कराया।

शिविर में योग प्रशिक्षकों ने कहा कि ‘‘योगः कर्मसु कौशलम्’’। अर्थात योग को आत्मसात करने से शरीर में असीम ऊर्जा का संचार होता है जिससे हमारी कार्यकुशलता व क्षमता बढती है। बदलती जीवनशैली में योग निश्चित रूप से बहुत लाभदायक है, जो दिमाग एवं शरीर को स्वस्थ एवं चुस्त-दुरूस्त बनाए रखता है। योग में शारीरिक, मानसिक, वैचारिक सभी समस्याओं का समाधान निहित है। अन्तराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों, जिला स्तरीय अधिकारियों, कर्मचारियों सहित गणमान्य नागरिकों ने पूरे उत्साह के साथ योगभ्यास कार्यक्रम में प्रतिभाग किया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!