January 27, 2022

हिमवंत कवि चन्द्रकुवंर बर्त्वाल शरदोत्सव मेले का पुनः रंगारंग आगाज,लोकगायकों के गीते पर झूमे दर्शक

भानु प्रकाश नेगी।

…………………

पोखरी:हिमवंत कवि चंद्र कुमार भारद्वाज खादी ग्रामोद्योग एवं पर्यटन स्थल शरदोत्सव मेले का एक बार फिर से रंगारंग आगाज हो गया है। 3 दिन के राजकीय शोक के बाद मेले की सांस्कृतिक संध्या दिवंगत सीडीएस जनरल विपिन रावत को समर्पित की गई। सांस्कृतिक संध्या में पहुंचे उत्तराखंड के प्रसिद्ध लोक गायक रोहित चौहान, लोक गायिका संगीता ढौडियाल और पम्मी नवल ने अपने सुरों का जादू बिखेर कर दर्शकों को थिरकने पर मजबूर कर दिया। कड़ाके की ठंड के बावजूद भी सांस्कृतिक संध्या स्थल दर्शकों से खचाखच भरा रहा।

सांस्कृतिक संध्या में पधारे सभी लोकगायक गायिकाओं ने दिवंगत सीडीएस जनरल विपिन रावत को श्रद्धांजलि अर्पित की। सांस्कृतिक संध्या से पहले पोखरी नगर पंचायत अध्यक्ष लक्ष्मी प्रसाद पंत ने मेले को पुनः शुभारंभ करने की औपचारिक घोषणा की। उन्होंने कहा की मेला 12 तारीख शांम को सांस्कृतिक संध्या का आयोजन होगा और 13 तारीख को मेले का समापन किया जाएगा। जिसमें मेले में आयोजित तमाम कार्यक्रमों की प्रशस्ति पत्र व लॉटरी इनाम वितरित किया जाएगा। वही समाजसेवी और युवा नेता मयंक पंत ने कहा कि आज 12 दिसंबर को आयोजित होने वाली सांस्कृतिक संध्या में कुमाऊं और जौनसार की संस्कृति की झलक दिखाई देगी। जिसमें कुमाऊं के प्रसिद्ध लोक गायक इन्द्र आर्य,व जौनसार से मनोज सागर अपनी सुरों का जादू बिखेरेंगे।


वही सांस्कृतिक संध्या के दौरान लोक गायक रोहित चौहान के प्रसिद्ध गीत धन सिंह की गाड़ी, चन्दी बटन भैजी कुर्सी काॅलर,पटवारी समेत कई गाने गाये, वही लोकगायिका संगीता ढौडियाल ने नंदा के जागर से कार्यक्रम की शुरुआत की इस दौरान उन्होंने खाइ काखडी झिले मा लूण पिसी शिल मा,ढोल दमौ बजि गाना,बाजू रंगारंग आदि गीते पर दर्शक को नाचने पर मजबूर कर दिया। लोकगायिका पम्मी नवल ने कन लगाये बडूलि,हुरोणि को दिन, समेत कई गीत गाये जिन पर दर्शक झूम उठे।
कार्यक्रम के दौरान शिक्षक टी पी सती,समाजसेवी रमेश चौधरी, शरत बुटेला समेत कई गणमान्य लोग मौजूद रहे।कार्यक्रम का संचालन थपलियाल जी ने किया।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *