January 27, 2022

कोरोना की तीसरी लहर को लेकर श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल ने कसी कमर

कोरोना की तीसरी लहर को लेकर
श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल ने कसी कमर

 

 अस्पताल में कोविड टास्क फोर्स का गठन
 251 जनरल बैड व 71 आईसीयू बैड कोविड मरीजों उपचारार्थ आरक्षित
 आॅक्सीजन भण्डारण की क्षमता बढ़ाई
 छोटे बच्चों के लिए अलग से आईसीयू बैड व उपचार की अनुकूल व्यवस्था

 

देहरादून। कोरोना की तीसरी लहर की आहट व उत्तराखण्ड में बढ़ रहे कोरोना मामलों के मद्देनज़र श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल ने कमर कस ली है। चिकित्सा अधीक्षक श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल की अध्यक्षता में कोविड टास्क फोर्स का गठन किया गया। प्राचार्य श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज़ ने छाती एवम् श्वास रोग विभाग के विशेषज्ञ डाॅक्टरांे, एनेस्थीसिया स्पेशलिस्ट, इमरजेंसी डाॅक्टरों की टीम सहित नर्सिंग व पैरामैडिकल स्टाफ के साथ बुधवार को आपात बैठक ली। अस्पताल में एक विशेष कोविड टास्क फोर्स का गठन किया गया है। कोविड टास्क फोर्स श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में आने वाले हर कोविड पेशेंट को क्विक रिस्पांस देने के लिए समन्वय बनाने का काम करेगी। यह जानकारी श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज के प्राचार्य डाॅ यशबीर दीवान ने दी।


डाॅ यशबीर दीवान ने जानकारी दी कि कोविड की पहली व दूसरी लहर की गम्भीरता को देखते हुए श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में मरीजों के उपचारर्थ 251 जनरल बैड व 71 आईसीयू बैड आरक्षित कर दिए हैं। अस्पताल में फ्लू क्लीनिक शुरू कर दी गई है। कम्प्यूनिटी मेडिसिन विभाग के डाॅक्टरांे की टीम अस्पताल स्टाफ व आमजनमानस को कोविड प्रोटोकाॅल की ट्रेनिंग देगी। छोटे बच्चों के लिए अलग से आईसीयू बैड व उपचार की अनुकूल व्यवस्था की गई है। प्राचार्य डाॅ यशबीर दीवान ने सभी आवश्यक व्यवस्थाओं का जायजा लिया व आवश्यक दिशा निर्देश जारी किये। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल द्वारा कोविड की पहली व दूसरी लहर के दौरान राज्य सरकार व स्वास्थ्य विभाग के साथ बेहतर तालमेल बनाकर बेहतर सहयोगी के रूप में कार्य किया। तीसरी लहर के मद्देनजर भी श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल राज्य सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर समन्वय व सहयोग करेगा। इस अवसर पर उप प्रचार्य डाॅ ललित वाष्र्णेय, डाॅ पुनीत ओहरी, शिशु रोग विभाग के प्रमुख डाॅ उत्कर्ष शर्मा, कोविड उपचार के तकनीकी विशेषज्ञ व कोविड टास्क फोर्स के नोडल अधिकारी डाॅ जगदीश रावत, डाॅ एसपी सिंह आदि उपस्थित थे।

श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल की आवश्यक तैयारियां:
 श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में छाती एवम् श्वास रोग विभाग, मेडिसिन विभाग, एनेस्थीसिया विभाग, इमरजंेसी टीम सहित नर्सिंग, पैरामैडिकल व सहायक स्टाफ अलर्ट मोड पर
 आॅक्सीजन व आईसीयू बैड की पर्याप्त व्यवस्था
 आयुष्मान योजना के अन्तर्गत कोविड उपचार उपलब्ध, प्राईवेट अस्पतालों में श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल सरकार का सबसे बड़ा प्राईवेट पार्टनर
 मरीजों को एम्बुलेंस से ट्रांसपोर्ट किये जाने के लिए एडवांस लाइफ सपोर्ट सिस्टम एम्बुलेंस की व्यवस्था। ये एम्बुलेंस मरीजों को हर सम्भव लाइफ सपोर्ट देने वाले उपकरणों से लैस हैं।
 अस्पताल के द्वारा 20,000 किलोग्राम क्षमता के आॅक्सीजन टैंक को पूरी क्षमता के साथ एक्टीवेट करने के आदेश किये गए हैं, कोरोना की तीसरी लहर में मरीजों को आॅक्सीजन आपूर्ति में कोई परेशानी न आए इसको लेकर तैयारियां पूरी
 छोटे बच्चों के आईसीयू (एन.आई.सी.यू. व पी.आई.सी.यू.) में आवश्यक उपरकण व प्रणांलियांे को लेकर आवश्यक तैयारियां पूरी
“देश भर में कोरोना की तीसरी लहर व कारोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढोत्तरी का व्यापक प्रभाव उत्तराखण्ड में भी दिखने लगा है। पिछले कुछ दिनों में देहरादून मंे भी कोरोना पाजीटिव मरीजों की संख्या में एकाएक बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। इसको लेकर श्री महंत इन्दरेश अस्पताल पूरी तरह तैयार है। इस समय आमजन को और सर्तक व सावधान रहने की जरूरत है । हम सभी को कोविड गाइडलाइन का अनुशासित रूप से पालन करने की आवश्यकता है। आमजन को अफवाहों पर ध्यान नहीं देना है। सरकार की ओर से जारी गाइड लाइन का अनुपालन करें। कोविड उपचार के लिए बेहतर संसाधन, आक्सीजन व उपचार के सभी आवश्यक विकल्प उपलब्ध हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *