December 7, 2022

हर्षोल्लास से मनाया क्षत्रिय कल्याण समिति ने 22 वाॅ स्थापना दिवस

आज रावत फार्म ( बद्रीपुर) देहरादून में उत्तराखंड क्षत्रिय कल्याण समिति (पंजीकृत) देहरादून का 22 वा स्थापना दिवस समारोह ,धूमधाम व हर्षोल्लास से मनाया गया। मुख्य अतिथि उत्तराखंड रत्न एवं संगीत सम्राट नरेंद्र सिंह नेगी मुख्य अतिथि थे। अपने संबोधन में उन्होंने समिति के क्रियाकलापों की प्रशंसा करते हुए विचार व्यक्त किए कि समाज के सभी वर्गों को आपस में भाईचारा और मित्रता का व्यवहार रखना चाहिए । समिति के कार्यो की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि समाज के समृद्ध एवं जागरूक व्यक्तियों को निर्मल ,कमजोर वर्ग की आर्थिक, शैक्षिक, भौतिक विकास एवं स्वास्थ्य एवं उनकी भरण पोषण के संसाधनों में बढ़-चढ़कर भागीदारी निभानी चाहिए ताकि सामाजिक स्तर पर कमजोर वर्ग का जीवन स्तर में सुधार हो सके। इस अवसर पर समिति द्वारा श्री नरेंद्र सिंह नेगी को क्षत्रिय शिरोमणि सम्मान 2022 से भी नवाजा गया।विशिष्ट अतिथि, क्षत्रिय रत्न  मोहन सिंह चौहान जी जो क्षत्रिय चेतना मंच कल्याण संस्था के अध्यक्ष भी हैं,ने अपने संबोधन में क्षत्रियों की गाथा को आगे बढ़ाते हुए संदेश दिया कि क्षत्रिय समाज , आदि समय से हर समाज की सुरक्षा छतरी की तरह करता था तथा उन्हें आज भी करनी चाहिए ।उन्होंने समाजिक एकता पर बल दिया। समाज के सुदृढ़ होने पर ही देश की सुरक्षा अखंड रहेगी ‌। ।समिति के महासचिव श्री किशन सिंह भंडारी ने समिति की आय-व्यय का जोखा प्रस्तुत करते हुए सूचित किया कि समिति वीरभड माधोसिंह भंडारी के नाम से स्थान नकरौंदा में एक भवन का निर्माण कर रही है जिसमें स्वर्गीय माधो सिंह के जीवन से संबंधित दस्तावेज एवं स्मृति चिन्ह संजोकर रखे जाएंगे तथा यह भवन दूरदराज से आना से आने वाले गरीब और निर्बल वर्गों बच्चों के लिए एक आसरा होगा। समिति के अध्यक्ष  धीरज सिंह नेगी ,ने सभी अतिथियों का स्वागत व उनका आभार व्यक्त करते हुए, समिति के द्वारा गत परसों किए गए अनेक सामाजिक कार्यों की जानकारी देते हुए अवगत कराया कि आर्थिक रूप से सक्षम व प्रशिक्षित व्यक्तियों एवं पेंशनभोगी सदस्यों को अपनी आय का कुछ भाग समाज के निर्बल एवं आर्थिक रूप से पिछड़े सदस्यो के आर्थिक दशा सुधार व विकास तथा गरीब बच्चों की पढ़ाई एवं उनके प्रशिक्षण खर्च करना चाहिए। 10000 मीटर की पैदल दौड़ में जूनियर वर्ग में राष्ट्रीय स्वर्ण पदक विजेता मानसी नेगी, हाई स्कूल एवं इंटरमीडिएट परीक्षा में विशेष योग्यता से पास होने वाले इंसान सिंह गुसाईं पुत्र राकेश गुसाई एवं कुमारी इतिशा रावत पुत्री दलबीर सिंह रावत के अतिरिक्त  अनूप बिष्ट प्रसिद्ध कोच, को प्रतिभा सम्मान से सम्मानित किया गया। उन्हें मुख्य अतिथि के हाथों प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिन्ह भेंट किए गए। विवाह योग्य युवक-युवती परिचय सम्मेलन में 40 लड़कों तथा बची लड़कियों ने स्टेशन कराया । अनेक लोगों ने समिति की सदस्यता भी ग्रहण की। स्वास्थ्य कैम्प में भी अनेक लोगों ने अपने स्वास्थ्य की जांच कराई। इस कार्यक्रम में प्रमुख वक्ता राज नितिन सिंह रावत, नरेंद्र सिंह रौथाण, सामाजिक संस्था ‘आवाज सुनी पहाड़ों की’के अध्यक्ष, थे। सांस्कृतिक कार्यक्रम का संचालन  परमेश्वरी देवी एवं  अर्चना बागड़ी की टीम द्वारा अनेक मनोरंजक गीतों तथा माधो सिंह भंडारी नृत्य नाटिका, की प्रस्तुति दी गई। इस कार्यक्रम में अन्य संगठनों जैसे क्षत्रिय चेतना मंच कल्याण संस्था देहरादून , क्षत्रिय उत्थान संस्था कोटद्वार, गढ़वाल छत्रिय सभा पौड़ी के अनेक पदाधिकारी एवं सदस्य भी उपलब्ध था नारी के अस्तित्व पर  किरण नेगी की कविता अति मार्मिक थीं। कार्यक्रम का संचालन  प्रताप सिंह बिष्ट द्वारा किया गया ।इस कार्यक्रम में समिति के अनेक पदाधिकारी सर्वश्री सुरेंद्र सिंह अस्वाल, दिगंबर सिंह नेगी, गोपाल सिंह बिष्ट, दिनेश सिंह नेगी,  रणजीत सिंह कैंतूरा,  सिंह बिष्ट, दिगंबर सिंह रावत, पीएस सजवाण,  तेजेंद्र सिंह रावत,सीएस जमवाल आदि अनेक पदाधिकारी उपस्थित थे । स्वर्गीय  सत्यदेव सिह असवाल जी ,जो समिति के 16 वर्षों तक लगातार अध्यक्ष के पद पर सुशोभित रहे थे ,तथा  अंकिता भंडारी एवं  किरण नेगी आदि को श्रद्धांजलि तथा उन्हें न्याय दिलाने की मांग, के बाद समारोह का समापन हुआ।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!