September 26, 2022

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने वन विभाग और पर्यटन विभाग के अधिकारियों के साथ की बैठक

  • मंत्री सतपाल महाराज ने वन विभाग एवं पर्यटन विभाग के अधिकारियों के साथ की बैठक

  • डंपिंग जोन को विकसित करने के लिए शीघ्र बनाएं एक्शन प्लान: महाराज

  • रोप-वे की प्रगति को लेकर भी हुआ मंथन

देहरादून। प्रदेश के पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने चारधाम परियोजना के दौरान बनाए गए डंपिंग जोन को जन सुविधाओं के लिए उपयोग में लाए जाने और रोपवे के निर्माण को लेकर लोनिवि,वन विभाग एवं पर्यटन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर कार्य योजना पर मंथन किया।
प्रदेश के पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने शनिवार को प्रमुख अभियंता, लोक निर्माण विभाग कार्यालय, यमुना कॉलोनी में लोक निर्माण, पर्यटन एवं वन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक पर चारधाम परियोजना के अंतर्गत 889 किमी में बने 350 डम्पिंग जोन की पर्यटन की दृष्टि से उपयोगिता पर मंथन किया।

उन्होने अधिकारियों को निर्देशित किया कि चार धाम परियोजना के अंतर्गत बने सभी डंपिंग जोनों को पर्यटकों की सुविधाओं के अनुरूप विकसित किया जाए। डंपिंग जोन के तहत जितने स्थान चिन्हित किए गए उन सभी स्थानों का उपयोग कैरावन, पार्किंग, शौचालय, रेस्ट हाउस एवं रेस्टोरेंट्स आदि गतिविधियों के उपयोग में लाई जाए।
कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने जानकारी देते हुए बताया कि चारधाम परियोजना के अंतर्गत 889 किमी के दायरे में यात्रा मार्ग पर कुल 350 डम्पिंग जोन हैं। पर्यटन की दृष्टि से विकसित किए जाने हेतु 54 डम्पिंग जोन जिनका कुल क्षेत्रफल 125 बीघा है चिन्हित किये गये हैं। श्री महाराज ने बताया कि ऋषिकेश से माणा राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-58 पर 06 डंपिंग जोन, रुद्रप्रयाग से गौरीकुंड राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-109 पर 05 डंपिंग जोन, टनकपुर से पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 125 पर 30 डंपिंग जोन, ऋषिकेश से धरासू राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-94 पर 03 डंपिंग जोन, धरासू से यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-94 पर कुल 10 डंपिंग जोन जबकि धरासू से गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-108 पर 01 डंपिंग जोन उपलब्ध है।

अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री श्री सतपाल महाराज ने कहा लोक निर्माण एवं वन विभाग के अधिकारी को निर्देश दिये कि तुरंत इस पर एक्शन प्लान तैयार करें ताकि समय पर इस योजना को मूर्त रूप दिया जा सके।

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने लोनिवि एवं वन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक के पश्चात पर्यटन एवं ब्रिडकुल के अधिकारियों के साथ भी बैठक कर निर्माणाधीन रोकने पर चर्चा करने के साथ-साथ उनकी प्रगति के बारे में जानकारी हासिल की।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!