March 3, 2024

गढ़ कौथिग के दूसरे दिन लोक गायक सौरभ मैठाणी के गीतों पर थिरके दर्शक,महापौर सुनील उनियाल गामा ने किया कार्यक्रम का शुभारंभ

 

 

– निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर में नेत्र रोग विशेषज्ञ डाॅ चिराग बहुगुणा व मनोरोग विशेषज्ञ डाॅ पवन शर्मा ने दी सेवाये।

-लोहा घाट चम्पावत की लोहे की कढाई व तवा बने मेले का आकर्षण
-पहाडी उत्पादों की हुई जमकर बिक्री

-कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय की बालिकाओं ने किया शानदार नृत्य।

 

देहरादूनःगढ़वाल भ्रातृ मण्डल संस्था क्लेमेन्ट टाउन देहरादून द्वारा गढ़ कौथिग के दूसरे दिन मुख्य अतिथि पूर्व कैबीनेट मंत्री दिनेश अग्रवाल व विशिष्ट डॉ जी सी बौठियाल ने दीप प्रज्वलित कर किया किया। इस दौरान मुख्य अतिथि ने गढ़वाल भ्रातृ मण्डल संस्था द्वारा हर साल होने वाले गढ़ कौथिक के शानदार व भव्य आयोजन के लिए संस्था के समस्त पदाधिकारियों व सदस्यों को बधाई व शुभकामनायेें दी।

दोपहर 2 बजे से आरम्भ हुऐ गढ़ कौथिग में संस्था की महिलाओं व विभिन्न स्कूलों के बच्चों ने एक से बड़कर एक शानदार प्रस्तुतियां दी।जिसमें संस्था गौरा ग्रुप व जय माॅडल ग्रुप ने तै नीती बैडर माॅ जी कन केकू जौलू व पीपलेश्वर महिला ग्रुप द्वारा ओटुवा वेलण,सौरभ नेगी की टीम द्वारा त्रिगुणी नारायण गीत पर शानदार प्रस्तुती दी गई। वही कस्तूरबा गांधी कोरूवा कालसी आवासीय विद्यालय के स्कूली बच्चों द्वारा जौनपुरी गीतों सुन्दर
प्रतुतियो पर दर्शक मंत्रमुग्ध हुये।हास्य कलाकार संदीप छिलबट ने अपने शानदार कॉमेडी से दर्शकों को लोट पोट कर दिया।
इस दौरान मुख्य अतिथि व विशिष्ठ अतिथियों के द्वारा गढ़वाल भ्रातृ मण्डल संस्था के वरिष्ठ सदस्यों महावीर सिंह नौटियाल,सच्चिदानंद ढोडियाल,दर्शन सिंह रावत का सम्मान किया गया।

 


दोपहर के कार्यक्रम में दूसरे दिन भी गढ़ कौथिग मेें स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें बहुगुणा आई केयर सेंटर के वरिष्ठ नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. चिराग बहुगुणा के द्वारा निःशुल्क नेत्र शिविर का आयोजन किया गया। नेत्र शिविर में निःशुल्क दवाओं का भी वितरण किया गया। स्वस्थ्य शिविर के दौरान फारगिवनेस फाउंडेसन सोसायटी के सीईओ प्रसिद्व मनोरोग विशेषज्ञ डॉ पवन शर्मा के द्वारा भी अपने निःशुल्क मनोरोग स्वस्थ्य शिविर का आयोजन किया। जिसमें सैकड़ों मनोरोगियों का उपचार व मानसिक स्वास्थ्य के प्रति लोगों को जागरूक किया गया। इस नेक कार्य के लिए डॉ चिराग बहुगुणा व डॉ पवन शर्मा को गढ़वाल भ्रातृ मण्डल संस्था द्वारा सम्मानित किया गया।
देहरादून पुलिस के द्वारा ड्रग्स फ्री देवभूमि मिशन 2005 के अन्तर्गत जन जागरूकता के लिए एक नाटक का आयोजन किया गया ।जिसमे थाना क्लेमेन्टाउन की मुख्य भूमिका रही।
गढ़ कौथिक मेले में उत्तराखंड की शान ढ़ोल दमाउ की थाप पर मेले में पंहुचे लोगों ने जमकर नृत्य किया। पहाड़ी व्यंजन,कछमोली,रोट,अरसा,शिकार भात,भरी रोटी,गथ्वाणी,थिच्वाणी आदि का जमकर आनन्द लिया साथ ही अनेक प्रकार के पहाड़ी उत्पाद,व परिधानों की जमकर खरीदारी की। झूले व चर्खी का भी जमकर लुफत उठाया।
सांयकालीन सास्कृतिक संध्या का शुभारंभ मुख्य अतिथि देहरादून महापौर सुनील उनियाल गामा द्वारा की गई।
मुख्य अतिथि डॉ.रमेश कहा कि हमें अपनी लोक संस्कृति व विरासतों के संरक्षण के लिए तन मन व धन से काम करना चाहिए। महापौर सुनील उनियाल गामा ने संस्था द्वारा आयोजित गढ़ कौथिग को सराहनीय प्रयास बताया।उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजन हमारे उत्तराखंड की संस्कृति के संरक्षण के लिए अति आवश्यक है।
शांयकालीन सांस्कृतिक संध्या में लोकगायक सौरभ मैठाणी ने अपनी शानदार प्रस्तुती दी। सौरभ मैठाणी के गीतों का जादू दर्शकों के सिर चड़कर बोला। सौरभ मैठाणी ने सबसे पहले पलायन से जुड़ा गीत “उच्चा उच्चा सैडिल पैरोलू बनारसी साड़ी” गीत गया, जिस पर दर्शकों ने जमकर नृत्य भी किया। इसके अलावा मेरी सपना स्याल,ढ़ोल दमाऊ की थाप,हॉ जी ओ,भानुमती,बो सुरेला,गुड्डू का बाबा समेत अनेक गीत गाये जिस पर दर्शक जमकर झूमें। इस दौरान संस्कृति विभाग की टीम के द्वारा अनेक रंगारंग प्रस्तुतियां दी गई।
आपको बता दें कि, गढ़ कौथिग 2023 का शुभारंभ 3 नवम्बर को पूर्व मुख्यमंत्री व गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत व धर्मपुर विधायक विनोद चमोली के कर कमलों से किया गया था। विधायक धर्मपुर व पूर्व महापौर विनोद चमोली कार्यक्रम के समापन पर सीएम धामी के साथ बतौर विशिष्ठ अतिथि रहेगे। विनोद चमोली गढ़वाल भ्रातृ मण्डल संस्था के वरिष्ठ संरक्षक भी है। संस्था के लिए हमेशा से ही उनका भारी सहयोग रहता है। हर साल राज्य स्थापना दिवस की खुशी में मनाये जाने वाला गढ़ कौथिग उत्तराखंड की लोक विरासत,संस्कृति के संरक्षण के लिए आयोजित किया जाता है जिसमें स्थानीय कलाकारों के अलावा अनेक युवा प्रतिभाओं को मंच के साथ साथ आर्थिक मदद भी दी जाती है। गढ़वाल भ्रातृ मण्डल संस्था गढ़ कौथिग के अलावा पर्यावरण संरक्षण,उत्तराखंड की संस्कृति संरक्षण के लिए समर्पित संस्था है।इसके अलावा संस्था समाज के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों उचित सहायता देने में भी अग्रणी भूमिका में रहती है।

इस दौरान भ्रातृ मण्डल संस्था के अध्यक्ष सुन्दर लाल सेमवाल,मुख्य संरक्षक कर्नल (से.नि.)एच.एम. बर्थवाल,महासचिव जयपाल सिंह रावत,मेलाधिकारी सु.मेजर बादर सिंह रावत,उपाध्यक्ष आर.पी. चमोली,सुषमा सजवाण, पूर्व अध्यक्ष रधुनंदन सिंह रावत, पूर्व महासचिव आर.सी.एस.रावत,राजू फस्वार्ण,सचिव दीपक नेगी,उमराव सिंह गुसांई, पार्षद राजेश परमार,पार्षद रमेश कुमार मंगू कोषाध्यक्ष बी़.पी बर्थवाल,सह-मेलाधिकारी अशोक सुन्दरियाल,सह कोषाध्यक्ष जितेन्द्र खंतवाल, अभिषेक परमार,सह सांस्कृतिक सचिव रंजन नौटियाल,संगठन मंत्री डी़.पी. बडोनी,जन सम्पर्क अधिकारी सुबोध नौटियाल लेखा परीक्षक बाचस्पिति विडालिया,प्रेस सचिव आलम सिंह भण्डारी,भानु प्रकाश नेगी गोविन्द सिंह रावत समेत अनेक गणमान्य लोग मौजूद रहे। मंच संचालन यशवंती थपलियाल के द्वारा किया गया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!