September 26, 2022

मेडिकल लैब टेक्नोलाजिस्ट संघ ने राज्य सरकार पर लगाया अनदेखी का आरोप

देहरादून।मेडिकल लैब टेक्नोलाजिस्ट संघ ने राज्य सरकार पर लैब तकनीशियन संवर्ग की अनदेखी का आरोप लगाया है। सोमवार को सेवा नियमावली समेत अपनी चार सूत्रीय मांगों को लेकर उन्होंने सचिवालय कूच किया। पर पुलिस ने उन्हें सचिवालय से पहले ही बैरिकेडिंग लगाकर रोक लिया।जिसपर लैब टेक्नीशियन वहीं धरने पर बैठ गए।
प्रदेश अध्यक्ष आशीष चंद्र व प्रदेश महासचिव मयंक राणा ने कहा कि संघ ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर समय-समय पर विभागीय मंत्री व अधिकारियों से पत्राचार किया। पर तकनीशियन संवर्ग की लगातार अनदेखी की जा रही है। विगत 22 वर्षों में डिग्रीधारी मेडिकल लैब तकनीशियन के लिए कोई भी सेवा नियमावली नहीं बनाई गई है। वहीं लैब तकनीशियन के पदों को आउटसोर्सिंग के जरिए भरा जा रहा है। जिससे युवाओं में निराशा का भाव उत्पन्न हो रहा है। ऐसे में डिग्रीधारी लैब तकनीशियन अपनी विभिन्न मांगों को लेकर आंदोलन को विवश हैं। उन्होंने कहा कि मेडिकल लैब तकनीशियन के लिए वर्षवार मेरिट के आधार पर सेवा नियमावली बनाई जाए। अन्य संवर्ग की तरह लैब तकनीशियन के पद आइपीएचएस मानकानुसार सृजित किए जाएं। मेडिकल लैब तकनीशियन के पद आउटसोर्स से न भरे जाएं। जिन आउटसोर्स एजेंसी को जांच का कार्य सौंपा गया है उनके काम की उच्च स्तरीय जांच कराई जाए। वहीं, मेडिकल लैब तकनीशियन का पदनाम लैब तकनीशियन से बदलकर साइंटिफिक आफिसर किया जाए।इस मौक़े पर राजेश रावत, धनवीर बगियाल, मोहन लाल भट्ट, देवेंद्र भट्ट, मोहित लखेडा, अमित मनवाल, संदेश शर्मा, आशुतोष सेमवाल, रणवीर बिष्ट, अनुराग पंत, दीपक जगवान, सोबन नेगी, संगीता, आकांक्षा भट्ट, प्रियंका पुरोहित, सिलोनी वसिष्ठ, सुधा थपलियाल, प्रवीण पवाँर, राजमोहन नेगी, सूरज नेगी, अमितकांत भट्ट व सैकड़ों डिग्रीधारक मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!