January 28, 2023

यूकेडी ने लगाया सरकार पर भूमफिया के लिए गरीबों को परेशान करने का आरोप 

भू माफिया के लिए गरीबों को परेशान कर रही सरकार यूकेडी

उत्तराखंड क्रांति दल ने उत्तराखंड सरकार पर भू माफिया का संरक्षण देने के लिए गरीबों को परेशान करने का आरोप लगाते हुए आंदोलन की चेतावनी दी है।

उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय मीडिया प्रभारी शिवप्रसाद सेमवाल ने कहा कि सरकार छोटे व्यवसायियों के निर्माण तो अतिक्रमण के नाम पर बिना नोटिस दिए तोड़ रही है लेकिन हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद भू माफिया के अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय उल्टा उन्हें संरक्षण दे रही है।

यूकेडी के मुख्य प्रवक्ता अनुपम खत्री ने सरकार पर भूमाफिया को पनपाने का आरोप लगाते हुए कहा कि मसूरी रोड पर एक तरफ हयात होटल जैसे बड़े ग्रुप के लिए रिजर्व फॉरेस्ट की जमीन से रास्ता बनाने दिया गया जबकि उसी रोड पर थोड़ा आगे मैगी प्वाइंट के पास छोटे-छोटे व्यवसायिक निर्माणों को बिना नोटिस दिए सरकार ध्वस्त कर रही है, ताकि उसके पास एक बड़े होटल व्यवसाई को निर्माण करने के लिए अनुकूल जगह उपलब्ध कराई जा सके।

सेमवाल ने कहा कि यह तानाशाही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उत्तराखंड क्रांति दल की महिला प्रकोष्ठ की केंद्रीय उपाध्यक्ष उत्तरा पंत बहुगुणा ने उप जिलाधिकारी डॉ. शिव कुमार बरनवाल की रिपोर्ट का हवाला देते हुए बताया कि खुद तहसील के कर्मचारी भू माफिया के साथ मिलीभगत करके चाय बागान की जमीन पर अवैध कब्जे करा रहे हैं, जबकि हाई कोर्ट ने उन्हें ध्वस्त करने का आदेश दिया है।

उत्तराखंड क्रांति दल की वरिष्ठ नेत्री राजेश्वरी रावत ने चेतावनी दी है कि सरकार हाईकोर्ट के आदेशों के बावजूद बड़े भू माफियाओं के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं कर रही है क्योंकि भाजपा ने खुद देहरादून के रिंग रोड में 10 बीघा टी प्लांटेशन की सरकारी जमीन अवैध तरीके से अपने नाम करा रखी है।

उत्तराखंड क्रांति दल के मुख्य प्रवक्ता अनुपम खत्री ने दस्तावेजों के साथ सरकार पर आरोप लगाया कि मौज़ा दानियो के डांडा मे निर्मित सर बायोटेक इंडिया लिमिटेड कंपनी द्वारा होटल हयात रेजीडेंसी द्वारा होटल  मसूरी देहारादून विकास प्राधिकरण के तत्कालीन सचिव, इंजीनियर, लेखपाल एव अन्य कर्मचारियो द्वारा तथा मानचित्र शमन करने वाले अधिकारियो ने अपने निजी लाभ हेतु पद का दुरुपयोग करते हुये होटल का मानचित्र स्वीक्रत कराने में अपनी अपनी भूमिका का निर्वाहन किया है।

यूकेडी ने सरकार से मांग की है कि सर बायोटेक इंडिया लिमिटेड द्वारा निर्मित पाँच सितारा होटल हयात रेजीडेंसी का स्वीकृत मानचित्र व शमन मानचित्र स्थगित कर तत्काल व्यावसायिक उपयोग पर प्रतिबंध लगाया जाए व पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जांच करवाकर दोषी साबित होने पर होटल का मानचित्र निरस्त किया जाए और उक्त प्रकरण में सम्मालित प्राधिकरण के इंजीनियरों, अधिकारियों व लेखपाल पर कठोर कार्यवाही की जाए।

यूकेडी ने भू माफिया के खिलाफ कार्रवाई न करने पर व्यापक आंदोलन की चेतावनी दी है साथ ही कहा कि अतिक्रमण हटाने के नाम पर बड़े व्यवसायियों को फायदा देने के लिए उत्तराखंड के आम आदमी का उत्पीड़न कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

प्रेस वार्ता में केंद्रीय मीडिया प्रभारी शिव प्रसाद सेमवाल, मुख्य प्रवक्ता अनुपम खत्री, यूकेडी महिला प्रकोष्ठ की केंद्रीय उपाध्यक्ष उत्तरा पंत बहुगुणा तथा यूकेडी की पूर्व केंद्रीय महामंत्री तथा वरिष्ठ नेत्री राजेश्वरी रावत शामिल थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!