November 29, 2022

गढ़ कौथिग की दूसरी शांम जागर गायिका रामेश्वरी भटट और  लोकगायिका संगीता ढ़ौड़ियाल के जागर व गीतों पर झूमें दर्शक

 

मुख्य अतिथि पूर्व मुख्यमंत्री व हरिद्वार सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने की गढ़वाल भ्रातृ मंण्डल संस्था के भवन निर्माण के लिए 10 लाख रूपये की घोषणा।
मेयर सुनील उनियाल गामा ने गढ़़ भवन के निमार्ण हेतु 20 से 25 लाख रूपये तक की सहायता देने की करी घोषणा।
नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. चिराग बहुगुणा ने मेले में लगाया निःशुल्क चिकित्सा शिविर
मनोरोग विशेषज्ञ डॉ. पवन शर्मा द्वारा आयोजित किया गया फ्री मनोरोग परामर्श
गढ़ कौथिग मेले के दूसरे दिन का शुभारम्भ सुन्दर सरस्वती बंदना से हुआ। तत्पश्चात जौनसारी टीम कस्तूरबा गांधी आवासीय विभाग विद्यालय कोसवा कालसी के बच्चों द्वारा सुन्दर सांस्कृतिक प्रस्तुति महासू देवता का गीत प्रस्तुत किया गया। इसी क्रम में संस्था की महिलाओं की सांस्कृतिक प्रस्तुतियां प्रस्तुत की गई। जिनमें पिपलेश्वर मन्दिर समिति (घुघती),गौरा ग्रुप (तान्दी),जय मां (तान्दी), रोशनी (गीत) और क्षेत्रीय बच्चों की प्रस्तुति जिसमें बलूनी स्कूली बच्चों का ग्रुप मुख्य था।


गढ़वाली बाजों की धुन पर सभी गणमान्य लोगों ने जमकर नृत्य किया। दोपहर के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ने मेला स्थल में लगे सभी स्टालों का निरीक्षण किया।इसके बाद मंच पर स्वागत समारोह में उन्हें संस्था की तरफ से चार धाम से बनी स्मृति चिन्ह भेंट किया गया।


इस समारोह उनके साथ डॉ. चिराग बहुगुणा (नेत्र विशेषज्ञ), डा पवन शर्मा (मनोरोग विशेषज्ञ)द्वारा लोगों को निःशुल्क सेवायें दी गई। डॉ चिराग बहुगुणा द्वारा मेले में आये अनके लोगों की नेत्रों की जांच के साथ साथ निःशुल्क परामर्श व दवायें वितरित की गई। जबकि गढ़ कौथिग मेले में पहली बार आयोजित मानसिक रोग विशेषज्ञ की आमंत्रित किया। वही मानसिक रोग विशेषज्ञ डॉ पवन शर्मा ने कई मनोरोगियों को निःशुल्क परामर्श दिया गया । इस वहीं गढ़वाल भ्रातृ मंण्डल संस्था के द्वारा डॉ चिराग बहुगुणा व डॉ पवन शर्मा को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।


आमंत्रित किए गए। इसी क्रम में मुख्य अतिथि ने अपने शब्दो में इस कौथिग के आयोजन की प्रशंसा की और कहा कि मेले हमें अपनी विरासत से जोड़ने की प्रेरणा देते हैं।जब हमारा अपने गढ़वाल से लगाव होगा तभी पलायन पर कमी आयेगी। उन्होंने कहा कि हमने काफी प्रयत्नों के बाद यह प्रांगण वन विभाग से मेले के आयोजन के लिए स्वीकृत करवाया।

शांम की संध्या में लोक गायिका संगीता ढौंडियाल एवं ब्रह्मकमल सांस्कृतिक मंच,जागर गायिका रामेश्वरी भट्ट के सुन्दर गानों एवं सांस्कृतिक प्रस्तुतियों को लोगों ने खूब सराहा। गढ़कौथिग मेले में पहली बार रूद्रप्रयाग जनपद से पधारी सुप्रसिद्व लोक जागर गायिका रामेश्वरी भट्ट के जागरांे पर दर्शक मंत्र मुग्ध हो गये।इस दौरान लोग गायिका संगीता ढ़ौड़ियाल ने अपने गीतों पर दर्शकों को देर रात तक झूमने पर मजबूर किया।
सायंकालीन कार्यक्रमो में मुख्य अतिथि डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक,सांसद हरिद्वार लोकसभा पूर्व शिक्षा मंत्री भारत सरकार, पूर्व मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार और विशिष्ट अतिथि सुनील उनियाल गामा नगर निगम देहरादून,डा चेतन शर्मा वेलमेड अस्पताल क्लेमेन्ट-टाउन और दिनेश जुयाल प्रतिष्ठित उद्यमी एवं समाज सेवी का भव्य स्वागत बिनसर ढोल दमाउ मसकबीन और लोगों की भारी भीड़ अति उत्साह पूर्वक किया। तत्पश्चात मंच पर स्वागत समारोह के दौरान संस्था ने चार धाम रुप में तैयार किया गया स्मृति चिन्ह भेंट किया।
इसी श्रृंखला में समाज और संस्था में उत्कृष्ट कार्य करने वाले को मुख्य अतिथि से सम्मानित भी किया गया। जिसमे वयोवृद्ध सुबेदार मेजर गोबिंद सिंह मियां उम्र 87 साल आदि हैं।
सायं कालीन संध्या के कार्य कर्मों में मुख्य अतिथि डॉ रमेश पोखरियाल निशंक,सांसद हरिद्वार लोकसभा, पूर्व मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार के कर कमलों से धर्म प्रकाश शास्त्री निवासी चन्द्र बनी से लिखी उत्तराखण्ड के मेलों के सम्बन्ध में पुस्तिका का विमोचन भी किया गया।लेखक वन विभाग से सेवामुक्त हैं।


मुख्य अतिथि ने गढ़वाल भ्रातृ मण्डल संस्था के इस आयोजन की भूरी भूरी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि जो समाज अपनी संस्कृति को नहीं बचाता वह मृतक के सम्मान है। उन्होंने कहा कि हमारा उत्तराखण्ड देश के अन्य सभी राज्यों में नम्बर एक में गिना जाता है। उन्होंने इस अवसर पर पूर्व प्रधानमंत्री स्व अटल जी को भी याद किया कि जिनके अथक सौजन्य से उत्तराखण्ड राज्य की स्थापना हुई।देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दुनिया का सर्व श्रेष्ठ नेताओं में एक बताया,साथ ही बताया कि देश को सेना का सर्वाेच्च पद सी डी एस देने का गौरव प्राप्त है। करोना काल में अच्छा काम करने को सभी का धन्यवाद किया।साथ ही सबको करोना का निःशुल्क टीकाकरण की जानकारी भी ली।
इस अवसर पर डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक पोखरियाल ने गढ़ भवन के निमार्ण हेतु 10 लाख रूपये की सहायता राशि देने की घोषणा की। वही मेयर सुनील उनियाल गामा ने संस्था के भवन निमार्ण का आने वाली लागत में 20 से 25 लाख रूपये तक की सहायता देने की घोषणा की।
इस मेले में संस्था के संरक्षक कर्नल(से.नि.) हीरामणी बर्थवाल (वी एस एम) संरक्षक रघुनंदन सिंह रावत, अध्यक्ष सुन्दर लाल सेमवाल, उपाध्यक्ष आर पी चमोली, महासचिव जयपाल रावत, मेलाधिकारी सुबेदार मेजर बादर सिंह रावत, पूर्व महासचिव आर सी एस रावत, पूर्व महासचिव जे एस रावत, पूर्व महासचिव राजू फरसाण , सचिव उमराव सिंह गुसाईं, कोषाध्यक्ष बी डी बर्त्वाल, क्षेत्रीय राजेश परमार, क्षेत्रीय पार्षद मोहन गुरुंग,मंच उद्घोषक विश्व भास्कर मैन्दौला, उपाध्यक्षा सुषमा सजवाण चौधरी,सांस्कृतिक सचिव श्रीमती यशवंती थपलियाल, संगठन मंत्री वी डी बडोनी,योग गुरु ओमप्रकाश पोखरियाल, प्रेस सचिव कैप्टन आलम सिंह भण्डारी, सतीश चन्द्र डबराल, मनोज भट्ट, अरुण थपलियाल, दीपक सिंह नेगी, अभिषेक परमार, अरुण थपलियाल, लक्ष्मण सिंह रावत, डाक्टर एम सी खण्डूरी, संगठन मंत्री डी पी बडोनी, गजेन्द्र सिंह नेगी, नन्द लाल कोठारी,मीडिया सलाहकार भानु प्रकाश नेगी सहित भारी संख्या में संख्या में दर्शक और गणमान्य विशिष्ट जन उपस्थित थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!