April 12, 2024

प्रख्यात समाज सेविका व आध्यात्मिक गुरू माताश्री मंगला ने किया गौरादेवी स्वर्ण जयंती समारोह का शुभारंभ।

Resolve to save daughters should be taken in every village and city: Matashree Mangala.

 

 

नारी सम्मान विकसित समाज की पहचान:माताश्री मंगला ।

प्रख्यात समाज सेविका व आध्यात्मिक गुरू माताश्री मंगला ने किया गौरादेवी स्वर्ण जयंती समारोह का शुभारंभ।

समाज कल्याण के लिए हमेसा समर्पित है द हंस फाउंडेशन :अनुपमा चौहान।

लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए अपने मताधिकार का प्रयोग अवश्य करें :माताश्री मंगला।

चमोली व रूद्रप्रयाग जनपद में हंस फाउंडेशन के माध्यम से स्वास्थ्य जागरूक व सामाजिक सांस्कृतिक खबरों के लाइव प्रसारण के लिए पत्रकार भानु प्रकाश नेगी माताश्री मंगला के कर कमलों से हुए सम्मानित।

जोशीमठ: गौरा देवी पर्यावरण एवंम सामाजिक विकास समिति चमोली द्वारा आयोजित गौरा देवी स्वर्ण जयंती समारोह का शुभारंभ मुख्य अतिथि संस्थापिका हंस फाउंडेशन माता श्री मंगला जी के कर कमलों से दीप प्रज्वलित कर किया गया।


दो दिवसीय कार्यक्रम जोशीमठ के रविग्राम स्थित जेपी खेल मैदान मै आयोजित किया गया।
इससे पूर्व सभी अतिथियों का परम्परागत तरीके से स्वागत चमोली जनपद के भोटिया जनजाति में प्रचलित पौंणा नृत्य से किया गया। समिति के सचिव पुष्कर सिंह राणा व पदाधिकारियो द्वारा सभी अतिथियों को भोजपत्र की माला व बुरांस के गुलदस्ते भेंट किये गये।

विशिष्ठ अतिथि सीडीएस दलीप चौहान की धर्मपत्नी अनुपमा चौहान ने अपने उद्बोधन में कहा कि हंस फाउंडेशन के द्वारा पेय जल,शिक्षा,स्वास्थ्य,महिला सशक्तिकरण,ग्रामीण विकास,ऊर्जा आदि क्षेत्रों में दी जा रही सेवायें अतियंत सराहनीय है।

समिति के द्वारा गौरा देवी सुपुत्र चन्द्र सिंह राणा,बहु बाली देवी व साथियों को मुख्य अतिथि माता श्री मंगला जी के कर कमलों से सम्मानित किया गया। साथ ही हिमवंत प्रदेश न्यूज के सम्पादक (पत्रकार) भानु प्रकाश नेगी को चमोली जनपद के सभी व्लाकों में हंस फाउंडेशन के माध्यम से स्वास्थ्य सेवा जागरूक व सामाजिक सास्कृतिक कार्यक्रमों के लाइव प्रसारण के लिए गौरा देवी पर्यावरण एवंम सामाजिक विकास समिति ने माता श्री मंगला के कर कमलों से सम्मानित किया गया गया।


कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए माता श्री मंगला ने
कहा कि, नारी समाज का सम्मान विकसित समाज की पहचान है।यहां की नारी शक्ति को देखकर लगता की रैणी गांव बहुत सुंदर है। यहां की महिलाओ में बहुत ऊर्जा है ये बहुत मेहनती है। यह दिन ह्दय को स्पर्श करने वाला दिन है। यहां हमें जो सम्मान दिया गया वह हमारे दिलो-दिमाग में हमेसा चिरस्मरणीय रहेगा। उन्होंने कहा कि जहां नारी सम्मान नही होता उस समाज का कभी कल्याण नही हो सकता है।
आज भी हमारे समाज में नारी के अपमान की कई घटनायें होती हैं। हम सब को इस अवसर पर बेटियों की सुरक्षा का संकल्प लेना होगा। शहरों में रहने वाले लोगो से ज्यादा गांव के लोग स्वास्थ्य है और उन्हें भगवान का सीधा आशीर्वाद भी मिल रहा है।


माताश्री मंगला ने कहा कि मां गौरा देवी की सोच,बलिदान व त्याग को नमन व बंदन है जिन्होंने अपनी जान की परवाह न करते हुए पेड़ों को कटने नहीं दिया। उनके अदम्य साहस के बल से 25 सौ पेड़ कटने से बच गये। गौरा देवी की प्रेरणा विश्वभर की नारी के लिए शक्तिपुंज बनी है। यही कारण है कि नारी आज समाज में सिर उठाकर चल रही है और समाज के विभिन्न क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रही है। उन्होने सभी लोगों से आगामी 19 अप्रैल को होने वाले मतदान में अपने मताधिकार के प्रयोग करने की भी अपील की।
वही आयोजन समिति ने हंस फाउंडेसन द्वारा अन्तिम गांव नीति-माणा में स्वास्थ्य सेवाये पंहुचाने के लिए माताश्री मंगला का धन्यवाद व आभार जताया। साथ ही अन्तिम गांव (अब प्रथम गांव) नीती -माणा आने का भी न्यौता दिया। आयोजित समिति के अध्यक्ष पुष्कर सिंह राणा ने कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माताश्री मंगला व सभी विशिष्ठ अतिथियों का आभार व्यक्त किया।
कार्यक्रम के दौरान बाॅलीवाल प्रतियोगिता व रस्साकशी,कुर्सी दौड़ का आयोजन किया गया।
इस दौरान विशिष्ठ आतिथि पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी बीकेटीसी बी.डी. सिंह,घर्माधिकारी धार्मानंद उनियाल,सबिता जी,गौरादेवी पर्यावरण एवं सामाजिक विकास समिति के अध्यक्ष सोहन सिंह,सचिव पुष्कर सिंह राणा,प्रसिद्ध पर्यावरण प्रेमी घन सिंह घरिया पेड़ वाले गुरुजी, गौरा देवी के सुपुत्र चन्द्र सिंह राणा,बहु बाली देवी व गौरा देवी की सहयोगी महिलाये सहित हजारो की संख्या में जनजातीय समाज की महिलायें व पुरूष मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!