February 4, 2023

राठ जन विकास समिति देहरादून में धूमधाम से मनायेगी ईगास (दीवाली), पारपंरिक रीति रिवाजों के साथ मनाया जायेगा लोकपर्व

 

देहरादून। राठ जन विकास समिति उत्तराखंड की बैठक यमुना कालोनी क्लव द्वितीय में समिति के अध्यक्ष शेखरानंद रतूड़ी की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक का संचालन राठ जन विकास समिति के महासचिव कुलानंद घनसाला द्वारा किया गया। बैठक में प्रवासी राठ क्षेत्र के लोगों द्वारा इस वर्ष दिवाली का त्यौहार बड़े धूमधाम के साथ मनाने का निर्णय लिया गया है। राठ जन विकास समिति के अध्यक्ष शेखरानंद रतूड़ी ने बताया कि मुख्य कार्यक्रम दून विश्वविद्यालय केदारपुरम, देहरादून के प्रागंण में शाम 6 बजे से शुरू होगा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर मुख्यमंत्री उत्तराखंड पुष्कर सिंह धामी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री व सांसद हरिद्वार डॉ रमेश पोखरियाल निशंक, कैबिनेट मंत्री व विधायक श्रीनगर डॉ धन सिंह रावत शिरकत करेंगे। इसके साथ ही क्षेत्र के विधायक-गण, पूर्व विधायक-गण, महापौर नगर निगम देहरादून, ले.ज. जीएस नेगी, मे.ज. रिटायर गुलाब सिंह रावत, विशिष्ट अतिथिगण, कार्यक्रम में आमंत्रित किए गए हैं।

राठ जन विकास समिति के अध्यक्ष शेखरानंद रतूड़ी ने कहा ईगास कार्यक्रम में सर्वप्रथम अतिथियों का स्वागत होगा। ईगास (दीवाली) पर्व पर 100 जोड़ी भैले, 2 जोड़ी के ढोल दमाऊ का प्रबंध राठ क्षेत्र से किया गया है। इस दौरान पारंपरिक रस्साकशी (गैड़) खींचने की व्यवस्था भी की गई है। तत्पश्चात भैला पूजन, राठ संस्कृति के अनुरूप भैलो खेलना जिसमें महिलाएं व पुरुष अलग-अलग से खेलेंगे तत्पश्चात रस्साकशी गैड़ खींचना एवं ढोल की थाप पर देवताओं का आह्वान तथा थड़िया गीत के साथ-साथ पांडव नृत्य किया जाएगा। इसमें रीति-रिवाज के अनुसार स्वाले पूड़ी, दाल के पकोड़े वितरित किए जाएंगे।

राठ जन विकास समिति के अध्यक्ष शेखरानंद रतूड़ी ने बताया कि कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कई समितियों का गठन किया गया है। जिससे कि राठ जन विकास समिति का यह पहला कार्यक्रम सफल बनाया जा सके। क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने भी इस कार्यक्रम पर अपनी सहमति व्यक्त की है।
राठ जन विकास समिति के महासचिव कुलानंद घनसाला ने बताया कि कार्यक्रम को सुचारू रूप से चलाने के लिए 16 अक्टूबर 2022 को राठ जन विकास समिति की आम सभा की बैठक आहूत की गई है। इसमें इगास के कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जाएगा तथा 3 नवंबर से को भैला खेलने एवं थड़िया गीतों की रिहरसल कराई जाएगी। बैठक में डॉक्टर आरके पंत, इंजीनियर बीके पंत, सलाहकार एवं कैप्टन गोविंद सिंह रावत, वरिष्ठ उपाध्यक्ष तथा मेहरबान सिंह गुसाईं ने भी अपने विचार रखे।

बैठक में पुरुषोत्तम ममगाई, राकेश खंकरियाल, दीवान सिंह नेगी, तारेश्वरी भंडारी, प्रेम सिंह रावत, भगीरथ ढौंडियाल, कमलेश्वर रतूड़ी, कृपाल सिंह टम्टा, नंदराम ममगाई, आनंद सिंह रावत, दयाल सिंह रावत, राजेंद्र प्रसाद पंत, सरिता भट्ट सहित क्षेत्रीय समितियों के पदाधिकारी भी उपस्थित थे। अंत में अंकिता भंडारी तथा उत्तराखंड के शहीदों को नमन कर दो मिनट का मौन रखा गया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!