December 7, 2022

विक्टोरिया क्रॉस नायक दरवान सिंह नेगी के नाम पर मनाये जाने वाले शौर्य महोत्सव के लिए एक्स सर्विस मेन लीग ने भेजी आर्थिक सहायता

शौर्य महोत्सव 23 नवम्बर 2022 से तीन दिवसीय शौर्य महोत्सव विक्टोरिया क्रॉस नायक दरवान सिंह नेगी के पैतृक गांव कफारत्तीर,खैतोलीखाल, पट्टी कड़ा कोट, तहसील नारायण बगड़,जिला चमोली गढ़वाल, उत्तराखण्ड में प्रारम्भ हुआ। विदित हो कि नायक(बाद में सूबेदार बहादुर) दरवान सिंह नेगी भारत के पहले विक्टोरिया क्रॉस (परम वीर चक्र के समकक्ष) है। जिन्हें प्रथम विश्व युद्ध के दौरान 23/24 नवम्बर 1914 की रात्रि को जब रेजिमेंट (39 गढ़वाल की प्रथम गढ़वाल राइफल) फ्रांस के फेस्तुवर्त में दुश्मन से दो वार सिर व बांह में घाव लगने के वावजूद अपने सैनिकों को जर्मन सैनिकों से मुक्त कराने में दिखाई गई उनकी अनुपम वीरता के लिए उन्हें विक्टोरिया क्रॉस से विभूषित किया गया। उनके पैतृक निवास में 2018 में बैंड की धुन पर पुष्प चक्र चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित करने का आयोजन किया गया।
उनकी वीरता, शौर्य और अदम्य साहस को चिरंजीवी रखने के लिए हर वर्ष 23 नवम्बर से यह महोत्सव प्रारम्भ किया गया।
तत् पश्चात कर्नल डी एस वर्त्वाल (से नि) संरक्षक के नेतृत्व में प्रथम विक्टोरिया क्रॉस नायक दरवान सिंह नेगी फाउंडेशन की स्थापना की गई।
इस महोत्सव को मनाने के लिए सैनिक लीग चमोली ने शासन प्रशासन से आर्थिकी सहायता की गुहार लगाई थी परन्तु कहीं से कोई सहायता न मिलने से उत्तराखण्ड एक्स सर्विस मेन लीग ने रुपया 10000 दस हजार की आर्थिक सहायता भेजी।इस आर्थिक सहायता का चमोली एक्स सर्विस मेन लीग ने उत्तराखण्ड एक्स सर्विस मेन लीग के अध्यक्ष जनरल यम एल असवाल का आभार जताया और धन्यवाद दिया।
जनरल असवाल ने चमोली जिले के सभी पूर्व सैनिकों के जोश जज्बे की सराहना की और कहा कि वीरों के अदम्य साहस को सदैव याद रखा जाना चाहिए।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!