February 4, 2023

डीएम रूद्रप्रयाग ने थाना ऊखीमठ का किया औचक निरीक्षण,कानून व्यवस्था को चाक चौबंद रखने के दिए दिशा निर्देश।

जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने  देर रात्रि को थाना ऊखीमठ का औचक निरीक्षण कर सुरक्षा कानून व्यवस्था सहित अन्य सभी व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए थाने में सभी व्यवस्थाओं को चाक-चौबंद रखने के निर्देश थानाध्यक्ष को दिए।
औचक निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा मालखाना, रसोई, कारागार, सीसीटीवी कैमरे, आवासीय व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए थाने में लंबित वादों एवं विवेचाधीन वादों के बारे में जानकारी प्राप्त की। जिलाधिकारी ने थानाध्यक्ष को निर्देश दिए हैं कि थाने में जो भी वाद लंबित एवं विवेचाधीन वाद हैं उनको शीर्ष प्राथमिकता से निस्तारण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने क्षेत्र में सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था को दुरस्त रखने के निर्देश दिए। उन्होंने थाने में सुरक्षा हेतु लगाए गए सभी सीसीटीवी कैमरों को दुरस्त रखने के निर्देश दिए तथा थाने में विद्युत व्यवस्था सहित इंटरनेट व्यवस्था को भी दुरस्त रखने के निर्देश दिए।


जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश हैं कि वर्तमान में तहसील ऊखीमठ क्षेत्रांतर्गत राजस्व पुलिस गांव जो रेगूलर पुलिस को स्थानांतरित किए गए हैं उन गांवों में सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था का भी विशेष ध्यान रखते हुए उन गांवों में भी गश्त लगाने के निर्देश दिए गए। उन्होंने थाने में लगाए गए अग्निशमन यंत्रों का भी ठीक प्रकार से रख-रखाव करने के निर्देश दिए तथा सभी अभिलेखों एवं पंजिकाओं का रख-रखाव ठीक तरह से रखने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही थाने की साफ-सफाई व्यवस्था को भी दुरस्त रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि केदारनाथ यात्रा को सफलतापूर्वक संचालन करने के लिए यात्रा व्यवस्था में ऊखीमठ थाने की महत्वपूर्ण भूमिका है जिसके लिए उन्होंने सभी पुलिस कर्मियों को अपने दायित्वों का निर्वहन मुस्तैदी से करने के निर्देश दिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए हैं कि क्षेत्र में भारी बारिश, भू-स्खलन एवं बर्फवारी के कारण जो भी सड़क मार्ग अवरुद्ध होते हैं उन मार्गों को यातायात हेतु तत्परता से यातायात संचालन करने के लिए आपदा कंट्रोल रूम, जिला कार्यालय एवं संबंधित विभागीय अधिकारियों को तत्काल सूचित करने के निर्देश दिए ताकि बाधित सड़क मार्ग को तत्काल यातायात हेतु सुचारू किया जा सके।


इसके पश्चात् जिलाधिकारी द्वारा तहसील कार्यालय ऊखीमठ का निरीक्षण कर तहसील स्तर से संपादित किए जा रहे कार्यों की भी जानकारी ली। उन्होंने उप जिलाधिकारी एवं तहसीलदार को निर्देश दिए हैं कि आम जनता की समस्या एवं तहसील स्तर से जारी किए जाने वाले सभी प्रमाण पत्रों को निर्धारित समयावधि में निस्तारण करना सुनिश्चित करें इसमें किसी भी प्रकार से कोई बिलंब न किया जाए।
निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी ऊखीमठ जितेंद्र वर्मा, थानाध्यक्ष ऊखीमठ राजीव चौहान, तहसीलदार ऊखीमठ दीवान सिंह राणा, अधि. अधिकारी नगर पंचायत केदारनाथ हर्षवर्धन, सप्लाई इंस्पेक्टर देवचंद सहित संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!