March 3, 2024

टनल हादसे के बाद श्रमिकों के रेस्क्यू से कांग्रेस असहज,रेस्क्यू एजेंसियों का उपहास: चौहान

 

 

श्रमिकों की सुरक्षित निकासी के बाद देश भर मे छाए उल्लास मे सहभागिता करे कांग्रेस

मुख्यमंत्री धामी की मेहनत को नकार नहीं सकती कांग्रेस : चौहान

देहरादून , भाजपा ने सिलक्यारा हादसे मे रेस्क्यू एजेंसियों की कड़ी मेहनत पर प्रसंशा के बजाय स्टंट करार देने के कांग्रेस अध्यक्ष के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण और अपमान जनक बताया।एवं कांग्रेस मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की मेहनत को नकारने की कोशिश में लगी है ।

भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस का रवैया शुरू से ही असंवेदंशील रहा है और जब रेस्क्यू चल रहा था तो कांग्रेस रेस्क्यू के बजाय जाँच की मांग कर रही थी और जब रेस्क्यू पूरा हो गया तो अब स्टंट बता रहे हैं। जब पूरा देश श्रमिकों के सुरक्षित निकलने पर खुशी मना रहा है तो कांग्रेस असहज होकर खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे वाली कहावत चरितार्थ कर रही है।

चौहान ने 17 दिन उपरांत सिलक्यारा सुरंग हादसे में सभी 41 श्रमिकों की सुरक्षित निकासी पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा और उनके साथी नेताओं की बयानबाजियों को गैरजिम्मेदाराना, और असंवेदनशील बताया है । उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी यह सोच स्पष्ट करती है कि कांग्रेस शुरुआत से ही क्यों नकारात्मक और हतोत्साहित करने वाली बाते कर रही थी। एक ओर देश सभी मजदूर भाइयों के सुरक्षित बाहर आने की प्रार्थना कर रहा था वही असवेंदनशील कोंग्रेस के गांधी परिवार के भाई बहिन प्रियंका गांधी एवं राहुल गांधी तेलंगाना में नृत्य कर रहे थे । वही दूसरी ओर उत्तराखण्ड के कांग्रेस के नेता बचाव कार्यों में आ रही बाधाओं को बढ़ा चढ़ा कर सबका मनोबल तोड़ने का काम कर रही थी । एक तरफ प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के प्रयासों से दुनिया भर के शीर्ष विशेषज्ञ और आपदा प्रबंधन टीम टनल में बंद जीवन को बचाने में रात दिन एक किए थी वही दूसरी तरफ कांग्रेस नेता इस युद्धस्तर की कयावद को सरकार और पीएम का इवेंट बता रही है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश मे अब तक जितनी अपदायें आई उन सब मे विशेषज्ञों के स्तर से जांच और कार्यवाही की गयी। जिस विद्युत करेंट हादसे की बात कर रहे है उसमे जाँच और कार्यवाही भी हो चुकी है। कांग्रेस महज भ्रम फैलाने की बात कर रही है। कांग्रेस आपदा के अवसरों पर राजनीति करती रही है। सिलक्यारा टनल मे सीएम जब मातली मे कैंप कार्यालय से कार्य कर रहे थे तो कांग्रेस मुख्यमंत्री गायब रहने के पोस्टर चस्पा की बात कर रही थी। अब कांग्रेस अध्यक्ष कह रहे है कि सीएम मौके पर क्यों नही थे। उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस का दोहरा चरित्र है। सीएम पूरे अभियान को मॉनिटरिंग कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को स्पष्ट करना चाहिए कि वह रेस्क्यू दलों के प्रयास पर सवाल उठा रही है या उसे सरकार की कोशिशों से दिक्कत है। कांग्रेस को सकारात्मक रूप से आगे बढ़ना चाहिए और रेस्क्यू दलों के प्रयास और श्रमिकों की सुरक्षित निकासी के बाद देश भर मे छाए उल्लास मे सहभागिता करनी चाहिए।

चौहान ने कहा कि आपदा के अवसरों पर सामूहिक रूप से सामना कर पीड़ितों को राहत पहुंचाने की कोशिश होनी चाहिए, न कि उसमे राजनीतिक अवसर तलाशे जाए। हालांकि अब तक आई हर आपदा मे कांग्रेस ऐसा व्यवहार करती रही है जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल

error: Content is protected !!